EK HASINA THI – Vatsal looks at Hrithik Roshan’s Guzarish for inspiration

Vatsal Seth who has been in the news for his character of Shaurya Goenka in STAR Plus’ popular series Ek Hasina Thi, is always trying to improve his acting skills. While the current track of the series depicts Vatsal in a wheelchair, the actor recently admitted that it is more difficult to emote when you’re confined in a tiny space!

In fact, Vatsal has been following performances of many great actors to understand the nitty-gritties of being able to act as an injured person. Since his character of Shaurya Goenka is paralysed and wheelchair bound, Vatsal has been watching movies like Anjaam and Guzarish. If sources were to be believed, Vatsal has been watching Guzarish and keenly following Hrithik Roshan’s performance in the movie even during rehearsal times and lunch breaks. The unit on the set believe that Vatsal has seen this movie at least 12 times in the past 2 weeks.

Said a source, “Vatsal has gotten into the skin of his character Shaurya. At all times, he wants to be able to perfect his acting. He has been following movies of many great performers in order to get inspiration for the current theme that portrays him as a paralysed person.”

Ek Hasina Thi is about Durga and her fight against the wrongdoings of Goenka family. Durga, played by popular actress Sanjeeda Sheikh, fights against all odds and always stands up for what she believes in. Will Durga achieve her end goal?


वत्सल सेठ ने रितिक रोशन की गुजारिश से ली प्रेरणा

स्टार प्लस के एक हसीना थी में अपने किरदार शौर्य गोयनका के लिये चर्चाओं में आये अभिनेता वत्सल सेठ हमेशा अपने अभिनय को निखारने की कोशिशें करते रहते हैं। आजकल कहानी की मांग पर वह शो में व्हीलचेयर पर दिखायी दे रहे हैं और उन्होंने माना कि अगर किसी अभिनेता को किसी छोटे क्षेत्र में सीमित कर दिया जाय तो भावनाआंे को व्यक्त करना कठिन होता है।

दरअसल वत्सल एक घायल व्यक्ति की भूमिका करने के लिये बहुत से महान अभिनेताओं के प्रदर्शनों को देखकर इस अवस्था की मूलभूत चीजों को समझना चाहते हैं। चूंकि शौर्य गोयनका का उनका किरदार लकवाग्रस्त है और व्हीलचेयर पर रहता है, वह अंजाम और गुजारिश जैसी फिल्मों को देख रहे हैं। सूत्रों की मानें तो वत्सल गुजारिश देख रहे हैं और फिल्म में रितिक रोशन के अभिनय का अभ्यास रिहर्सल में और लंच ब्रेक के समय में कर रहे हैं। सेट पर यूनिट का मानना है कि वत्सल ने पिछले दो हफ्तों में यह फिल्म कम से कम 12 बार देखी है।

एक सूत्र ने कहा, ‘‘वत्सल अपने किरदार शौर्य को पूरी तरह से आत्मसात कर चुके हैं। हर समय वह अपने अभिनय को परफेक्ट करना चाहते हैं। लकवाग्रस्त किरदार को आत्मसात करने के लिये वह कई महान अभिनेताओं की फिल्में देख रहे हैं।’’

एक हसीना थी दुर्गा की कहानी है जो गोयनका परिवार के किये गये अन्याय के विरूद्ध लड़ रही है। संजीदा शेख द्वारा अभिनीत दुर्गा हमेशा अपने विश्वास पर खड़ी होती है और सभी बाधाआंे के खिलाफ लड़ती है। क्या दुर्गा अपना आखिरी लक्ष्य पाने में सफल होगी ?

Comments!